मंगलवार, 1 जुलाई 2008

गया फिर आज का दिन भी उदास करके मुझे।

गया फिर आज का दिन भी उदास करके मुझे।


5 टिप्‍पणियां:

  1. भेजा फिर आपने आज के दिन को भी उदास करके !
    घुघूती बासूती

    उत्तर देंहटाएं
  2. होता है कभी ऐसा भी। सुन्दर प्रस्तुति।

    उत्तर देंहटाएं
  3. हम भी आपके साथ उदास हो लिए तस्वीर देखकर.

    उत्तर देंहटाएं

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails