गुरुवार, 27 मई 2010

गिरेबाँ झाँकना सीखा नहीं उन्होंने अब तक ! त्रिवेणी की कोशिश!


शिकायत सी है उन्हें हम से,
अब
भी बेवफा समझते हैं हमें,
!
!
!
गिरेबाँ
झाँकना सीखा नहीं उन्होंने अब तक.

2 टिप्‍पणियां:

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails