रविवार, 9 अगस्त 2009

यूँही नहीं कोई, छोड़ के जाता किसीको! हाल ए दिल!

आज ऑरकुट पे घुमते घुमते एक फोरम में, एक सवाल से दो चार हुआ. किसी लड़की ने पूछा के क्या सिर्फ लडकियां ही बेवफा होती हैं? लड़के बेवफा नहीं होते क्या? सवाल जायज़ था, शायद उस फोरम को बनाने वाला भी सोच रहा होगा के ये क्या कह दिया.
बेवफा तो कोई भी हो सकता है, लड़का भी और लड़की भी.
शायद मैं भी और शायद तुम भी!



कमी नहीं बेवफाओं की दुनिया में,
शायद कुछ बेवफा हम भी रहे होंगे,
!
!
!
वरना यूँही नहीं कोई, छोड़ के जाता किसीको ...

1 टिप्पणी:

  1. सही है, यूँ ही न तो छोड़ जाता है और न ही छेड़ जाता है..वफाई/ बेवफाई दोनों ही हैं.

    उत्तर देंहटाएं

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails